धनौल्टी में खुली देवी-देवताओं के नाम पर मीट की दुकान… सोशल मीडिया पर छिड़ा विरोध में अभियान

उत्तराखंड देवो की भूमी के लिए विख्यात है। यहां हजारों देवी-देवताओं का वास है। धनौल्टी में जहां सरकुंड़ा मां का मंदिर जगह-जगह देवी देवताओं को पूजा जाता है। सबके अपने कुल देवता है। मांस-मच्छी का खास ध्यान रखा जाता है। वहीं एक ऐसी खबर सामने आई जिससे लोगों में आक्रोश देखने को मिल रहा है। स्थानिय लोगों के साथ ही प्रदेशवासी इसका सोशल मीडिया पर विरोध कर रहे है।

बता दें कि धनौल्टी के थत्यूड़ बाजार में देवी देवताओं के नाम पर मीट की दुकान खोली है । कहने को तो ये दुकान स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए खोली गई है। लेकिन लोगों का कहना है कि स्वरोजगार के नाम पर देवी-देवताओं का अपमान किया जा रहा है। ये दुकान थत्यूड़ बाजार के पास सुक्टयाणा बाजार में व्यापार मंडल थत्यूड़ की नाक के नीचे खोली गई है। जिसे लेकर विवाद बढ़ता जा रहा है।

बता दें कि, मीट की दुकान का नाम ‘लक्ष्मी मां काली मटन चिकन शॉप’ रखा गया है. इसके बाद से इस मामले ने धार्मिक रूप ले लिया है. इसके विरोध में व्यापार मंडल के व्हाट्सएप ग्रुप में गम्भीर चर्चाएं की जा रही हैं, लेकिन फिर भी व्यापार मंडल थत्यूड़ मूकदर्शक बना हुआ है.

 वहीं लोगों का कहना है कि ये दुकान हमारी सनातनी आस्था पर प्रहार है। अगर किसी ने गलती से ये नाम लिख भी दिया है तो तुरंत इस पर संशोधन करें। अन्यथा इसके परिणाम बुरे हो सकते है। लोग इसे दुर्भाग्यपूर्ण बता रहे है साथ ही ये सलाह भी दे रहे कि तुरन्त दुकान का नाम झटका मटन-चिकन शॉप रखा जाए। अन्यथा परिणाम भुगतने को तैयार रहने की चेतावनी तक दे रहे है।

+