उत्तराखंड में इंटर्न डॉक्टर्स के स्टाइपेंड में हुई दोगुनी बढ़ोतरी, अब मिलेगा 17000 मानदेय

उत्तराखंड में अगर आप सरकारी मेडिकल कॉलेजों में पढ़ रहे है और इंटर्न है तो आपके लिए खुशखबरी है। सीएम धामी ने इंटर्न डॉक्टरों को बड़ी सौगात देते हुए उनके स्टाइपेंड में दोगुनी बढ़ोतरी कर दी है। सीएम ने रविवार को 7,500 रूपए प्रतिमाह को बढ़ाकर अब प्रतिमाह 17,000/- करने की स्वकृती दे दी है। जल्द ही इसके आदेश जारी कर दिए जाएंगे। सीएम के इस फैसले से लंबे समय से आंदोलनरत इंटर्न चिकित्सको को भी राहत मिल गई है।

सीएम ने कहा कि कोरोना महामारी के प्रभाव को कम करने तथा पीड़ितों को त्वरित उपचार एवं आवश्यक चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने में हमारे चिकित्सकों एवं पैरामेडिकल स्टाफ का सराहनीय योगदान रहा है। उन्होंने कहा कि एमबीबीएस के इंटर्न डॉक्टरों का स्टाईपेंड काफी कम था और इसे बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस संदर्भ में तैयार प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई है। अब राज्य के मेडिकल कॉलेजों के एमबीबीएस इन्टर्न डॉक्टरों के स्टाईपेंड के रूप में प्रतिमाह 17 हजार रुपये मिलेंगे।

आपको बता दें कि राज्य के सरकारी मेडिकल कॉलेजो में सेवा दें रहे 330 इंटर्न डॉक्टर लंबे समय से स्टाईपेंड को लेकर आंदोलनरत थे। ये दून, हल्द्वानी व श्रीनगर मेडिकल कालेज में तैनात है । इनका कहना था कि उनसे काम योद्धाओं का  लिया जा रहा है और वेतन मजदूरों वाला दिया जा रहा है उन्हे प्रतिदिन 250 रूपए मानदेय दिया जा रहा है। जिसके लिए उन्होंने प्रदर्शन कर इंटर्न डॉक्टरों ने स्टाईपेंड बढ़ाने की मांग को लेकर धरना भी दिया था। मामला कोर्ट तक पहुंचा था। इंटर्न डॉक्टर्स ने जनता दरबार में भी सीएम से गुहार लगाई थी। जिसके बाद अब सीएम धामी ने उनका मानदेय बढ़ा दिया है।

 

+