Breaking News
Home / करगिल / सियाचिन में शहीद हुआ उत्तराखंड का लाल विपिन सिंह ,केवल 4 वर्ष पहले ही हुए थे सेना में शामिल………

सियाचिन में शहीद हुआ उत्तराखंड का लाल विपिन सिंह ,केवल 4 वर्ष पहले ही हुए थे सेना में शामिल………

यह बात तो आप सभी लोगों को पता होगी कि उत्तराखंड के कितने ज्यादा नौजवान भारत के थल सेना में शामिल है और उत्तराखंड के नौजवानों को अलग ही जोश देखने को मिलता है सेना के प्रति खासकर जब चलते नहीं बात आती है तो लेकिन एक बहुत ही दुखद खबर आ रही है जम्मू कश्मीर से जहां पर सियाचीन में तैनात एक उत्तराखंड के बेटे के लिए बुरी खबर आ रही है वह बाबू विकासखंड के धारकोट निवासी विपिन सिंह नाम का एक जवान शहीद हो गया है उनके गांव में काफी ग्रुप का माहौल है वहां 57 बंगाल इंजीनियरिंग में सेवारत हैं और इन दिनों सियाचिन में तैनात थे और अपने देश को प्रदान कर रहे थे 6 दिन में है कि खाई में पैसे देने की वजह से वह क्लियर की चपेट में आ गए और अपनी जान से हाथ धो बैठे उनकी मौत का पूरे भारत देश को बंद है गांव के लाल विपिन सिंह की शहादत की सूचना जब उनके परिवार वालों को मिली तो उनके गांव में दुख का माहौल बन गया है।
धारकोट गांव के प्रधान यशवंत गुरसैन ने बताया कि रविवार दोपहर विपिन सिंह के परिजनों को फोन पर जानकारी दी गई कि विपिन सिंह सियाचिन में शहीद हो गया है| विपिन सिंह (24) करीब 4 साल पहले सेना में भर्ती हुआ था। वह इन दिनों सियाचिन में तैनात थे।
बताया जा रहा है कि शहीद का परिवार जिसमें माता पिता भी शामिल है गांव में ही रहता है| पिता भी एक पूर्व सैनिक हैं जो सेना से सेवानिवृत्त हुए हैं। बड़ा भाई भी फौज में है और बड़े भाई का परिवार कोटद्वार में रहता है। विपिन सिंह मार्च में छुट्टी पर आया था। इधर, डीएम डॉ. विजय कुमार जोगदांडे ने बताया कि सेना के अधिकारियों से पाबो प्रखंड के धारकोट निवासी विपिन सिंह के शहीद होने की सूचना मिली है| शहीद का पार्थिव शरीर सोमवार शाम तक पैतृक गांव पहुंचने की उम्मीद है।

About kunal lodhi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *