मौसम विभाग ने दिए संकेत “उत्तराखंड में बढ़ने वाली है ठंड और भी ज्यादा”, कई क्षेत्रों में “बारिश और बर्फबारी” के आसार

उत्तराखंड में भी अब ठंड का प्रकोप धीरे-धीरे करके बढ़ने लगा है हिमालय क्षेत्र की बर्फबारी के चलते अब मैदानी इलाकों में भी ठंड का असर देखने को मिल रहा है और दिन प्रतिदिन तापमान में गिरावट दर्ज करे जा रही है बर्फीली हवाओं ने लोगों की कपकपी छूटी है और लोगों में काफी ठंड का अनुभव भी किया है धूप का असर धीरे-धीरे खत्म होता नजर आ रहा है और ठंड का प्रकोप बढ़ता हुआ नजर आ रहा है इसके साथ ही मौसम फिलहाल खुशनुमा है क्योंकि ऐसे वक्त में उत्तराखंड में ज्यादातर सैलानी आना पसंद करते हैं।

यह बात तो आप सभी लोगों को पता होगी कि पाला और कोहरा गिरने से ज्यादातर क्षेत्रों में सुबह और रात के टाइम में ठंडा और ज्यादा चरम पर पहुंच जाता है। जिससे कि बुजुर्ग और बच्चों को काफी ज्यादा परेशानी होती हैं। इसी बीच मौसम विभाग ने ठंड के और ज्यादा इजाफा होने के संकेत दे दिए हैं। जिससे कि यह बात तो साफ है कि आने वाले समय में उत्तराखंड में ठंड और भी ज्यादा बढ़ने वाली है।

उत्तराखंड में बढ़ने लगी ठंड

ताजा पश्चिमी विक्षोभ उत्तराखंड में दस्तक देने वाला है। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के मुताबिक राजस्थान और हरियाणा की ओर से चक्रवाती हवाओं के साथ ही अरब सागर से ताजा पश्चिमी विक्षोभ बुधवार शाम तक हिमालयी क्षेत्रों में पहुंच सकता है। इससे अगले दो से तीन दिन उत्तराखंड के ज्यादातर हिस्सों में हल्की बारिश के आसार बन रहे हैं। इसके साथ ही 2500 मीटर से अधिक ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी हो सकती है।

पश्चिमी विक्षोभ के असर से गुरुवार और शुक्रवार को प्रदेश के ज्यादातर इलाकों में बारिश और बर्फबारी हो सकती है। जिससे तापमान में गिरावट आएगी, कड़ाके की ठंड पड़ेगी। इन दिनों प्रदेश में शुष्क मौसम के बीच अधिकतम तापमान सामान्य के करीब बना हुआ है। हालांकि, सुबह और शाम को ठिठुरन बढ़ रही है। पहाड़ों में पाला परेशानी बढ़ा रहा है तो वहीं मैदानों में कोहरा मुसीबत बना हुआ है। पल-पल बदलते मौसम के चलते मौसमी बीमारियों का कहर भी बढ़ा है।

मौसम में इतने ज्यादा बदलाव होने के कारण ज्यादातर क्षेत्रों में लोगों में खांसी जुकाम जैसी बीमारी तो आम तोर पर देखी जाती है और इसमें तेजी भी देखी जाती है। अस्स्थामा अटैक बढ़ जाने से परेशानियां आप सभी लोगों की ओर ज्यादा हो जाती है ,क्योंकि बुजुर्गों को ऐसे समय में सांस लेने में खासा दिक्कतों का सामना करना पड़ता है घर पर किसी को ख़ासी या इंफेक्शन है तो बच्चों को उनसे दूर रखे हैं हम आप सभी लोगों को हिदायत दे देना चाहते हैं।

इसके साथ ही ठंड के प्रकोप से बचने के लिए आप सभी लोगों को अच्छे ढंग से कपड़े पहनने चाहिए और सुबह और ज्यादा रात को अपने घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए केवल जरूरी काम होने पर ही बाहर निकले क्योंकि ऐसे में आप सभी लोगों को ठंड लगने का खतरा बढ़ सकता है।

+