Breaking News
Home / खबरे / उत्तराखंड के इन नौ पहाड़ी जिलों के लिए बेहद खुशखबरी, रसोई गैस पाइप लाइन से दरवाजे तक पहुंची गैस

उत्तराखंड के इन नौ पहाड़ी जिलों के लिए बेहद खुशखबरी, रसोई गैस पाइप लाइन से दरवाजे तक पहुंची गैस

उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में अपना जीवन व्यतीत करने के लिए कितनी ज्यादा मुश्किलों का सामना करना पड़ता है इस सभी के बारे में केवल एक उत्तराखंड का बाद ही जान सकता है और उसे ही इस बात की समझ हो सकती है कि आखिर उन पहाड़ी लोगों को अपने जीवन व्यतीत करने में किस प्रकार की दिक्कतों का सामना करना पड़ता है इसका एक मुख्य कारण है कि लोग वहां से पलायन करते हैं और निचले इलाकों में आकर अपना जीवन व्यतीत करना ज्यादा बेहतर समझते हैं क्योंकि वहां उन्हें सुख सुविधाएं मिलती हैं और अन्य प्रकार के फायदे होते हैं।

उत्तराखण्ड में आबादी के आधार पर गैस पाइप लाइन बिछाने का कार्य किया जायेगा। इससे सभी पर्वतीय जिलों को शामिल किया गया है जिससे गैस पाइप लाइन के माध्यम से घर घर पहुंच सकेगी और सिलेंडर का बोझ कम होगा आबादी के आधार पर उत्तराखंड के पौड़ी,उत्तरकाशी रुद्रप्रयाग,टिहरी गढ़वाल, पिथौरागढ़, चंपावत, अल्मोड़ा चमोली और बागेश्वर जिलो में गैस की पाइप लाइन बिछाई जायेगी।अगर हम बात करें अन्य जिलों की जैसे कि देहरादून हरिद्वार उधमसिंह नगर और नैनीताल इन सभी जिलों में अभी गैस पाइप लाइन का कार्य प्रगति पर है और कुछ ही समय में यहां का कार्य समाप्त हो जाएगा। सबसे सुख बड़ी खबर तो यह है कि मैदानी जिलों के साथ-साथ अब पहाड़ी इलाकों में भी उसी तेजी के साथ काम हो रहा है और लोगों को इन सभी कार्यों से काफी सुविधाएं भी मिलेंगी गैस पाइप लाइन डालने की तैयारी की जाएगी जिससे कि गांव के काफी जिलों में राहत होगी और लोगों को अनेकों प्रकार की सुख सुविधा मिल पाएंगे।

About kunal lodhi

Check Also

रामायण में त्रिजटा का किरदार निभाने वाली महिला बेटी की मां बनी, बेटी की मां बोलीं-रामायण में काम की वजह से मिला संतान सुख

रामानंद सागर की “रामायण” की लोकप्रियता आज भी कम नहीं हुई है। यह सीरियल जब …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *